भारत के सबसे अमीर एवं युवा स्टार्टअप फाउंडर्स, जिनके हौसलों के आगे झुकी दुनिया

व्यक्ति विशेष:  हर साल 10 में से 9 स्टार्टअप कम्पनीयां शुरू होने के बाद बंद हो जाती हैं. उनके ऑफिस या website शटडाउन हो जाती हैं. इसमे सबसे बड़ा कारण धेर्य और मेहनत की कमी होती है, किसी भी सफल व्यवसाय या स्टार्टअप कोचलाने के लिए धेर्य, शक्ति, सामर्थ्य और कड़ी मेहनत ज़रूरी होती है.

कुछ लोग मेहनत तो खूब करते हैं लेकिन वह धेर्य नहीं रख पाते हैं, एक छोटी सी हार या फैलियर से वो घबरा जाते है हो किसी और अच्छी अवसर की तलाश में चले जाते हैं.

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे ही युवा और मेहनती तथा धेर्यवान व्यक्तियों के बारे में जिन्होंने इन सब से ऊपर उठ कर आज एक नया मुकाम हासिल किया है. इन सभी ने पूरी लगन , मेहनत और धेर्य के साथ अपने काम को किया तथा आज वो सफल व्यवसायी और आदर्श  व्यक्ति हैं. चलिए जानते है इन्ही सफल हस्तियों के बारे में अपने व्यक्ति-विशेष सेक्शन में.

 1. Dhiraj Rajaram, 40 ( Rs. 17,800 करोड़)
Founder: Mu Sigma

dhiraj rajaram founder of mu sigma
dhiraj rajaram founder of mu sigma

धीरज राजाराम (40) mu Sigma कंपनी के फाउंडर हैं. अन्ना यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग करने के बाद MS तथा बाद में MBA करने के लिए बिज़नस स्कूल चले गए. वहां से लोटने के बाद उन्होंने Booz Allen Hamilton में  काम करने की कुछ वषों के बाद उन्होंने अपनी Management consultancy and data analytics कंपनी मु-सिग्मा (mu-sigma) स्थापित की.
आज इस कम्पनी की सम्पति करीब  एक बिलियन डॉलर ($1 billion) है और धीरज राजाराम की कुल संपत्ति करीब 17,800 crore है.

2. सचिन बंसल ,34(9010 crore) और  बिन्नी बंसल ,31 (9010 crore)
Co-founder, Flipkart .

Sachin and Binny bansal founder of flipkart
Sachin and Binny bansal founder of flipkart

 

 

 

 

 

 

 
सचिन और बिन्नी बंसल दोनों ही IIT Delhi से स्नातक हैं तथा दोनों ही अमेज़न (AMAZON) एक बहुप्रतिष्ठित इ-कॉमर्स कंपनी में काम कर चुके हैं. जब वह एमेजोंन (AMAZON) में काम कर रहे थे तो उन्हें अपना सेटअप और खुद का एक इ-कॉमर्स पोर्टल बनाने का विचार आया. तब दोनों ने बंगलोर के एक छोटे से घर और केवल 4 लाख रूपए लेकर ये काम शुरू किया और आज फ्लिप्कार्ट इंडिया की सबसे प्रतिष्ठित कम्पनी है. आज दोनों अपनी-2 कुल संपत्ति करीब rs 9010 crore है.

3. राहुल शर्मा , 37 (2070 करोड़)
Co-Founder, Micromax

Rahul Sharma founder of Micromax
Rahul Sharma founder of Micromax

राहुल शर्मा ने अपने 3 दोस्तों के साथ मिलकर सन 2000 में मिक्रोमैक्स कंपनी की शुरुआत की. आपको बता दे की पहले मिक्रोमैक्स IT फर्म थी बाद में मिक्रोमैक्स मोबाइल टेक्नोलॉजी मे आयी. कंपनी कई दौर से गुज़री और अंत में आके कंपनी ने सस्ते मोबाइल हैंडसेट बनाए और बेचने शुरू किये. आज कंपनी भारत की मोबाइल बनाने वाली कंपनीयों में १ स्थान पे आती है. आज कम्पनी की कुल वैल्यू करीब 21000 crore है और राहुल शर्मा की कुल संपत्ति करीब 2070 करोड़ है.

4. Vijay Shekhar Sharma, 37 (2884 Crore)
Founder: Paytm

Vijay Shekhar sharma founder of One97 (Paytm)

उत्तर प्रदेश के अलीगढ में जन्मे विजय शेखर शर्मा को  Delhi College of Engineering के पहले साल में फेल कर दिया गया था क्योंकि उन्हें इंग्लिश ठीक से नहीं आती थी.आज विजय शेखर शर्मा ने इंडिया की सबसे बड़ी इ-वॉलेट सेवा प्रदाता कम्पनी Paytm खड़ी कर दी है. कंपनी इतनी तेजी से बड़ी है तथा इसकी पॉपुलैरिटी काफी तेजी से फैली है, वर्त्तमान में एक ऑटो रिक्शा से लेकार बड़ी -२ कंपनियां paytm के इ-वॉलेट एप्लीकेशन को use करती हैं. वर्तमान में कंपनी के निवेशकों में विश्व की सबसे बड़ी बल्क और B2B कंपनी अलीबाबा के जेक मा और टाटा कंपनी के रतन टाटा शामिल हैं company का कुल बाज़ार मूल्य करीब 21000 करोड़ है.

5. Bhavish Aggarwal,28 and Ankit Bhati, 29 (2380 Crore)
Co-Founder: Ola Cabs

Ankit Bhati , Co-founder of Ola Cabs
Ankit Bhati , Co-founder of Ola Cabs

आईआईटी बॉम्बे के स्नातक कैसे भारतीय commutes में एक क्रांति की शुरूआत करने और  सरकारों और वैश्विक प्रतिद्वंद्वियों से भयंकर प्रतियोगिता लेते हुए इतनी बड़ी कंपनी खड़ी कर देते हैं ओला-कैब्स इसका एक उदाहरण है। ओला कैब के सह-संस्थापकों की कुल संपत्ति करीब  2380 करोड़ रुपये प्रत्येक है। दोनों Ankit और Bhavish  इस सूची में सबसे कम उम्र के भारतीय है जिन्होंने ये मुकाम हासिल किया है।

6. Kunal Bahl,31  (2314 Crore)
Co-Founder: Snapdeal

Kunal Bahl founder of snapdeal
Kunal Bahl founder of snapdeal

कुनाल बहल IIT बॉम्बे में एडमिशन नहीं पा सके इसलिए उन्होंने विदेश जाके पड़ाई करने का निर्णय लिया. Wharton से MBA करने के बाद वापस आके उन्होंने अपना इ-कॉमर्स पोर्टल snapdeal शुरू की. कम्पनी आज बड़े eCommerce पोर्टल जेसे अमेज़न और फ्लिप्कार्ट को सिधे प्रतिस्पर्धा दे रही है. तथा कम समय में काफी ऊँचाईयों तक पहुँच चुकी है.

6. Naveen Tewari,37 (1668Crore)
Founder: InMobi

Naveen Tiwari founder of inmobi
Naveen Tiwari founder of inmobi

नवीन तिवारी का शैक्षिक योग्यत काफी उच्च है, उन्होंने IIT कानपूर से स्नातक किया है तथा आगे की मैनेजमेंट शिक्षा Harvard Business School से पूरी की है. पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्हने अपना कुछ स्टार्टअप करने का निर्णय लिया और तब उन्होंने InMobi कंपनी शुरू की. कंपनी आज मोबाइल advertisement में विश्वप्रशिद्ध हैं और नवीन तिवारी की अपनी कुल संपत्ति करीब 1668 crore है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *